“Bharat Band”के कारण गृह मंत्री अमित शाह ने शाम 7:00 बजे किसान नेता को बुलाया है | Big News

“Bharat Band” के कारण गृह मंत्री अमित शाह ने शाम 7:00 बजे किसान नेता को बुलाया है |

बहुत बड़ी जानकारी यहां निकल कर आ आ रही है कि जो किसान नेता है वह आज शाम 7:00 बजे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिलेंगे .

अमित शाह के द्वारा सुबह किसानों को एक प्रस्ताव भेजा गया था उस प्रस्ताव के तहत गृहमंत्री से 13 सदस्य मिलेंगे |

सभी देशवासियों को यह पता है कि जो किसान Bharat baned को लेकर  जो आंदोलन कर रहे हैं वहां क्यों कर रहे हैं

Bharat Band
“Bharat Band”के कारण गृह मंत्री अमित शाह ने शाम 7:00 बजे किसान नेता को बुलाया है |

 

Bharat band  को लेकर किसानों का आंदोलन लगातार तेजी से बढ़ता जा रहा है इस कारण से पूरे देश भर में विचार विमर्श किए जा रहे हैं. अगर आप किसानों के बारे में थोड़ा सा भी सोचे तो आपको याद आएगा कि यहां सिर्फ एक बार नहीं हुआ है या फिर अब यह नहीं हो रहा है इससे पहले भी कई बार किसानों ने इस तरीके से आंदोलन किए हैं अपनी मांगों को लेकर |

किसानों का आंदोलन तेजी से बढ़ने के कारण गृह मंत्री अमित शाह ने शाम 7:00 बजे किसान नेताओं को बैठक के लिए बुलाया है. अमित शाह ने यह बैठक अचानक बुलाई है. यह पता होते हुए कि सरकार पहले ही 9 दिसंबर यानि बुधवार को किसान संगठनों से फिर मुलाकात करने वाली है |

 

किसान आंदोलन में जो भी किसान नेता है बे आज शाम 7:00 बजे केंद्रीय  गृह मंत्री अमित शाह से मिलेंगे. माना जा रहा है कि यह बैठक अचानक बुलाई जा रही है. सुबह अमित शाह की तरफ से किसानों को प्रस्ताव भेजा गया था उस प्रस्ताव के दौरान कुल 13 किसान नेताओं को बैठक के लिए बुलाया है | जो यह किसानों का आंदोलन हो रहा है इस आंदोलन में देश भर से ना जाने कितने किसान इकट्ठे हुए हैं |

और यह किसान अपनी मांगों को पूरा करने के लिए इकट्ठा हुए हैं Bharat band  करने के लिए पूरे देश से कई राज्यों से किसान इकट्ठे हुए हैं उत्तर प्रदेश हरियाणा पंजाब और भी कई बड़े राज्यों से किसान अपनी मांगों को लेकर परेशान हैं इस कारण से वे अपनी मांगें पूर्ण करवाना चाहते हैं इसीलिए पूरे देश से जगह जगह से किसान एक जगह इकट्ठा हुए हैं |

अमित शाह ने कुछ विचार विमर्श करने के बाद ही  Singhu, टिकरीऔर गाजीपुर बॉर्डर पर  बैठे कई किसानों को बैठक के लिए बुलाया है और इस बैठक में राकेश टिकैत को भी बुलाया है यह सब कुछ राकेश टिकैत ने बताया है कि उनके पास कॉल आया था बैठक के लिए |इस बैठक में वही 13 किसान नेता जाएंगे |

 

भारत देश में किसानों की मांगों को लेकर हर बार कुछ ना कुछ ऐसा होता आया है कि हमेशा से किसान किसी न किसी वजह से परेशान होते आए हैं |  पानी के कारण और कभी बिजली के कारण या फिर वह जो फसल कर रहे हैं उन फसलों को सही कीमत नहीं मिल पाती इस कार्य से कहीं ना कहीं हर बार किसानों को कुछ ना कुछ परेशानियां आती रही है हमेशा से |

Bharat Band

इस बार किसानों ने फिर से अपना आंदोलन चालू कर दिया है अपनी मांगों को लेकर किसानों ने Bharat Band का ऐलान भी कर दिया |

एक किसान पंजाब से आए हैं और हरियाणा से उत्तर प्रदेश से देश के कोने-कोने से किसान इकट्ठे हुए हैं किसानों ने जो Bharat Band का आंदोलन चलाया है उस दौरान अपनी  मांगे रखी है लेकिन यह जो भारत बंद का ऐलान किया है वह इस प्रकार से किया है कि किसी को कोई अधिक परेशानी ना हो सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए ही यह ऐलान किया है |

जैसे कि अमर जेंसी जो भी है वह चालू रहेगा जैसे कि हॉस्पिटल मेडिकल एंबुलेंस ऐसी अमर जेंसी कार्य में रुकावट पैदा नहीं की जाएगी यहां उन किसानों ने ही कहा है |

भारत बंद कर रखी किसानों ने अपनी बातें और बहुत राजनैतिक दल किसानों के साथ {Top-10 Breaking News}