Farmer Protest Big Update :राकेश टिकैत और 12 किसान  नेताओं को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के द्वारा नोटिस भेजा गया | 

Farmer Protest Big Update :राकेश टिकैत और 12 किसान  नेताओं को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के द्वारा नोटिस भेजा गया |

Farmer Protest Big Update राकेश टिकैत और 12 किसान  नेताओं को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के द्वारा नोटिस भेजा गया
Farmer ProtestBig Update राकेश टिकैत और 12 किसान  नेताओं को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के द्वारा नोटिस भेजा गया
farmer protest Big Update :-अब तो सभी लोगों को पता चल गया होगा कि दिल्ली में 26 जनवरी को क्या हुआ था हां दोस्तों 26 जनवरी को हुए बवाल के मामले में दिल्ली पुलिस बहुत बड़े एक्शन में आ गई है और दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने 12 बड़े किसान नेताओं को नोटिस  जारी कर दिया है और क्राइम ब्रांच दफ्तर बुलाया है उन बड़े किसान नेताओं को

 इसके बारे में सबसे बड़ी जानकारी यह निकल कर आ रही है कि इसके बारे में फिलहाल किसानों के द्वारा कोई भी जवाब नहीं दिया गया है |

पुलिस क्राइम ब्रांच के द्वारा किसानों को यह नोटिस भेजा गया है इसके बारे में यह जानकारी निकलकर आ रही है कि जो राजधानी दिल्ली में जो हिंसा हुई है उस मामले को लेकर किसानों से पूछताछ की जाएगी |

क्राइम ब्रांच के द्वारा 12 बड़े किसान नेताओं को नोटिस भेजा गया है जिसमें क्राइम ब्रांच ने किसान नेता राकेश टिकैत बूटा सिंह बुर्ज गिल दर्शन पाल सिंह शमशेर पंढेर और सतनाम समेत ऐसे 12 बड़े नेताओं को और पूछताछ करने के लिए नोटिस भेजा गया है |

फॉरेंसिक टीम आ सकती है गाजीपुर

 सबसे बड़ी खबर निकल कर आ रही है कि जो 26 जनवरी पर हुई हिंसा के कारण चारों तरफ एक्सपर्ट लग चुके हैं और कुछ टीमें भी जांच कर रही है कि आखिरकार यह जो भी हिंसा हुई है वह किस कारण से हुई है और किसने की है क्योंकि हमें पूर्ण रूप से पता नहीं चल पा रहा है कि यह किसानों के द्वारा की गई है या किसी अन्य द्वारा की गई है |

अभी इस बात को लेकर कोई भी पूर्ण रूप से यह नहीं कह सकता कि यह किसानों के द्वारा किया गया है लेकिन किसानों के द्वारा यह बताया जा रहा है कि हमारे द्वारा देश के झंडे का अपमान और जो 26 जनवरी पर इतनी बड़ी हुई हिंसा में किसानों के द्वारा कोई भी ऐसा कार्य नहीं किया गया है जिससे सरकार क्यों कोई भी हानि हो किसान नेताओं का यह कहना है कि यह जो भी किसी ने किया है वह किसानों को बदनाम करने के लिए किया है |

इसलिए जो भी ज्यादा करता टीमें है और जो भी क्राइम ब्रांच पुलिस है वह इसी की जांच कर रही है कि आखिरकार वह कौन व्यक्ति थे जो कि 26 जनवरी पर इतना बड़ी इंसा हो गई और किसानों के बीच आकर इतना बड़ा कार्य किया इसकी फिलहाल जांच चल रही है |

 जो हिंसा हुई उस जांच को लेकर फॉरेंसिक एक्सपर्ट टीम कुछ देर में गाजीपुर बॉर्डर के पास हंगामा हुआ था उस जगह पर जांच पड़ताल करेगी दरअसल दिल्ली पुलिस ने फॉरेंसिक टीम से तोड़फोड़ की जांच को लेकर फॉरेंसिक टीम से सैंपल जुटाने की गुजारिश की है |

सिंधु बॉर्डर के बारे में जानिए बड़ी खबर

सभी लोगों को यह पता है कि सिंधु बॉर्डर पर कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों को तलवारबाजी में दिल्ली के अलीपुर के एस एच ओ प्रदीप पालीवाल घायल हो गए हैं लेकिन आज सिंधु बॉर्डर पर वहां के आसपास लोगों की भीड़ जुट रही है

और उन लोगों के बीच और किसानों के बीच आपस में टकराव देखा गया है दोनों पक्षों के बीच झड़प भी हो चुकी है जिसके कारण वहां पर पुलिस को पहुंचकर लाठीचार्ज करने का ऑर्डर भी देना पड़ा और इसी कारण वहां पर कुछ लोग घायल भी हो गए |

अभी जो भी छब्बीस जनवरी पर हुई हिंसा का कारण और किसानों के बीच शामिल होकर किन लोगों ने ऐसा कार्य किया उसकी जांच पड़ताल चल रही है और इस कारण किसान नेताओं से पूछताछ भी की जा सकती है | 

Farmer Protest,Farmer Protest,Farmer Protest,Farmer Protest,Farmer Protest,Farmer Protest

10 January 2021 Current Affairs

Best Tech Jankari