Gangubai Kathiawadi Biography : The Mafia Queen of Mumbai, Age, Death Reason , , Husband, Family 

Gangubai Kathiawadi Biography : The Mafia Queen of Mumbai, Age, Death Reason , , Husband, Family 

Gangubai Kathiawadi Biography The Mafia Queen of Mumbai, Age, Death Reason , , Husband, Family 
Gangubai Kathiawadi Biography The Mafia Queen of Mumbai, Age, Death Reason , , Husband, Family

Who was Gangubai

Gangubai Kathiawadi की कहानी आज आप जानने वाले हैं एक ऐसी कहानी जो कि दूसरे लोगों से बहुत अलग है क्योंकि यह कहानी एक महिला की है जिसकी कहानी सुनकर आप भी रन हो जाओगे कि सच में एक महिला इस प्रकार से यह सब कुछ कर सकती है |

 लेकिन हमारे द्वारा यह जो कहानी बताई जा रही है वह इंटरनेट पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार बताई जा रही है इस कहानी में कितनी सच्चाई है इसके बारे में हम पूर्ण रूप से दावा नहीं करते |

 गंगूबाई काठियावाड़ी के ऊपर एक फिल्म भी बन चुकी है तू आप जानी सकते हैं कि इस महिला की कहानी ऐसी कैसी कहानी है की फिल्म बनानी पड़ी कुछ तो ऐसा है जो कि लोग कभी भी भूल नहीं पाएंगे गंगूबाई काठियावाड़ी को |

इसके अलावा, उसने हेरा मंडी रेड लाइट जोन में एक सेक्स रैकेट चलाया। उन्होंने 60 के दशक के दौरान मुंबई में अपनी ठोस शक्ति बनाए रखी। इस महिला ने मुंबई में अपनी एक ऐसी पहचान बना ली जिस पहचान से हर कोई डरने लगा |

शुरुआत के समय में यह महिला एकदम नॉर्मल महिला थी ऐसा कोई भी नहीं सोच सकता था कि आगे भविष्य में यह महिला अपना रूप किस प्रकार से धारण करेंगी लेकिन कुछ ऐसा हुआ कि गंगूबाई काठियावाड़ी को उनके साथी ने ही ₹500 में किसी को बेच दिया 

ऐसा कुछ होने के बाद गंगूबाई काठियावाड़ी को किसी कोठे पर शामिल कर लिया गया लेकिन मुंबई में इस प्रकार से रहने से इस महिला की जान पहचान कुछ फिल्म व्यवसाय और माफिया लोगों से भी हुई इस प्रकार से इस महिला की कहानी एक ऐसी कहानी बन गई कि जिसे आप आज इस पोस्ट में जानने वाले हैं तो चलो हम आपको बताने वाले हैं |

Gangubai Kathiyawadi Biography

  • Name –                    Gangubai Kathiyawadi.
  • Real Full Birth Name – Ganga Harjeevandas Kathiawadi
  • Nick name                  – Gangubai.
  • Profession               – Sex Worker and Mafia Queen
  • Age (As of 2019)      – 80 years old.
  • Date of Birth (DOB), Birthday – 1939.
  • Birthplace/Hometown – Kathiawar, Gujarat (India).
  • Nationality                   – Indian.
  • Caste                           – Kathiyawadi.
  • Gender                         – Female.
  • Sexuality Orientation    – Straight.
  • Religion                         – Hinduism.
  • House Location               – Mumbai, India.
  • Food Habit                       – Non-veg
  • Sun Sign (Zodiac Birth Sign) – Not Available

 

  • ऊंचाई (लंबा)                 – पैर और इंच: 5 ″ 3)।
  • सेंटीमीटर:                      -163 सेमी।
  • मीटर:                             -1.63 मीटर।
  • वजन किलोग्राम:              – 65 किलोग्राम।
  • आंखों का रंग          – काला।
  • बालों का रंग            – सफेद
  • जन्म तिथि (DOB),     जन्मदिन 1939।
  • मूल / गृहनगर               काठियावाड़, गुजरात (भारत)।

भारतीयता की राष्ट्रीयता।

  • जाति काठियावाड़ी।
  • लिंग           महिला।
  • धर्म हिंदू         धर्म।
  • हाउस लोकेशन     मुंबई, भारत।
  • सन साइन         (राशि चक्र जन्म चिह्न) उपलब्ध नहीं है।
  • माता-पिता पिता:       ज्ञात नहीं।
  • माँ:                    नाम नहीं मिला।
  • भाई-बहन            जल्द ही अपडेट करेंगे
  • पति / पति का नाम लेखाकार (नाम नहीं पता)
  • माता-पिता पिता: ज्ञात नहीं।
  • व्यक्तिगत जीवन संबंध
  • वैवाहिक स्थिति: विवाहित।
  • विवाह स्थान – काठियावाड़ में एक मंदिर
  • पति / पति का नाम – लेखाकार (नाम ज्ञात नहीं)।
  • शिक्षा –  उच्चतम योग्यता – सरकारी स्कूल से कक्षा 12 वीं 

 

Who was Gangubai Kathiawadi in real life?

असली नाम गंगा हरजीवनदास काठियावाड़ी था लेकिन समय के अनुसार कुछ ऐसा हुआ कि उन्हें दूसरे नाम से  लोग जानने लगे | 

लेकिन जब से वह काठियावाड़ की निवासी थी, वह गंगूबाई काठियावाड़ी के नाम से जानी जाने लगी। 16 साल की उम्र में, वह अपने जीवन के प्यार, अपने पिता के एकाउंटेंट के साथ मुंबई में रहने के लिए अपने घर से भाग गई और उससे शादी कर ली।और अपना जीवन व्यतीत करने लगी | 

Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,

Who is Gangubai Kathiyawadi Wikipedia?

गंगूबाई मुंबई की अंडरवर्ल्ड की सबसे खूंखार महिलाओं में से एक थी। वह 60 के दशक में मुंबई में कई वेश्यालय चलाती थीं। वह ‘कामाथीपुरा की मैडम’ के नाम से लोकप्रिय थीं।जिसके जीवन के ऊपर फिल्म भी बन चुकी है | 

Gangubai Kathiawadi  मैं कभी ऐसा नहीं सोचा था कि आगे चलकर उनका जीवन इस तरह से बीतेगा उन्होंने जिस व्यक्ति के साथ प्यार किया और उसी से शादी की और उसी कारण से वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर किया था

भले ही गंगूबाई इस वेश्यावृति लाइन में आ गई थी लेकिन इस लाइन में आकर भी उन्होंने कई लड़कियों के साथ अच्छा व्यवहार किया और ज्यादातर लड़कियों की देखभाल की और उनकी देखभाल एक मां की तरह करती थी |

  गंगूबाई बहुत कम उम्र में वेश्यावृत्ति लाइन में धकेल दी गई थी |

अभी भी मुंबई के गंगूबाई के एरिया में कई दीवारों पर अभी भी गंगूबाई की तस्वीरें टंगी हुई है और लोग उनका सम्मान भी करते हैं |

गंगूबाई  कोठे चलाती थी इस कारण से उनके बहुत से ऐसे ग्राहक थे जिनका संबंध अंडरवर्ल्ड के साथ था और सबसे बड़ी बात तो यह है कि और यह भी बताया गया है कि वह डोंकी अभिभावक थी गंगूबाई कई बार उन लोगों का मार्गदर्शन करती थी |

हालाँकि वह कामाथीपुरा की झुग्गियों में रहती थी, लेकिन कथित तौर पर वह इतनी अमीर थी कि अपने लिए एक महंगी कार खरीद सकती थी। 

गंगूबाई के द्वारा मुंबई में बहुत बे साले पर शासन किया गया है वह आम की पुरा में रहने की स्थिति में सुधार के लिए किए गए प्रयासों के लिए जानी जाती है | और गंगूबाई के द्वारा मुंबई में ऐसे कार्य किए गए जिन कार्यों से आज भी लोग गंगूबाई को अधिक याद करते हैं |

भारत देश में ऐसी बहुत सी कहानियां और किस्से हैं जो लोगों के सामने नहीं आ पाते हैं। जब तक कोई भी कहानी लोगों के सामने नहीं आएगी तब तक लोगों को पता नहीं चलता कि वह कौन था कहां से आया था आज आप इस कहानी को जानने वाले हैं कि उनका जीवन किस प्रकार से बहोत ही कठिनाइयों से बीता यह कहानी एक ऐसी कहानी है जो कि आज तक किसी ने नहीं सुनी यह कहानी और अन्य कहानियों से बहुत अलग है 

जिसने अपने जीवन में बहुत दयनीय स्थिति देखी और एक वेश्या के रूप में मशहूर हुई। उस चरित्र का नाम है गंगूबाई काठियावाड़ी जिसके बारे में आज हम विस्तार से जानेंगे |

Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,

Gangubai Kathiyawadi Family

गंगूबाई जब अपने परिवार के साथ थी तब वह एकदम नॉर्मल लड़की थी और कोई भी सोच भी नहीं सकता था कि आगे भविष्य में इस प्रकार से यह लड़की अपने काम से जानी जाएगी |

 गंगूबाई गुजरात के एक बहुत ही सम्मानित परिवार की एक इकलौती लड़की थी और तब ऐसा कुछ भी नहीं था जैसा कि सभी लोग गंगूबाई के बारे में जानते हैं लेकिन यहां इतनी कठिन परिस्थितियों से गुजरी अपने जीवन की बहुत ही बड़ी घटनाओं की परिस्थितियों ने गंगूबाई को एक अपराधी,  डॉन,  बिजनेस वूमेन ,  और कोठेवाली बना दिया लेकिन आज भी मुंबई में कई दीवारों पर गंगूबाई के फोटो लगे हुए हैं क्योंकि गंगूबाई के द्वारा बहुत ऐसे अच्छे कार्य किए गए जिन कार्यों से आज उन्हें याद करती है |

गंगूबाई को उनकी परिस्थितियों ने ऐसा बना दिया कि वे 60 के दशक में डॉन की तरह रहती थी |

 और कोई भी व्यक्ति उनसे पंगा लेने के लिए तैयार नहीं होता था बताया जाता है कि वे एक कोठा चलाती थी जिसकी पूरे देश में बहुत ब्रांच भी थी |

Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,

Who is Gangubai Kathiawadi

तो चलो हम अब जानते हैं कि किस प्रकार से गंगूबाई एक ऐसी महिला बन गई जिसे पूरा देश याद करता है गंगूबाई के पिता के पास एक अकाउंटेंट काम करता था जिसका नाम रमणीक था और वह गुजरात आया करता था

लेकिन गुजरात आने से पहले वह मुंबई में भी रहा करता था लेकिन जब गंगूबाई को इस के बारे में पता चला तो गंगूबाई को यह जानकर अच्छा लगा कि मैं अब आसानी से मुंबई जा सकती हूं और गंगूबाई को बहुत खुशी हुई क्योंकि गंगूबाई मुंबई जाना चाहती थी गंगूबाई और रमणीक के बीच अच्छी दोस्ती हो गई लेकिन धीरे-धीरे यही दोस्ती पता भी नहीं चला प्यार में बदल गई |

Gangubai Kathiawadi Husband

गंगूबाई ने पूरा फैसला कर लिया कि मैं अब मुंबई जाकर ही रहूंगी और फिर कुछ ऐसा ही हुआ गंगूबाई ने मात्र 16 वर्ष की उम्र में रमणीक के साथ घर से भाग गई और कहीं मंदिर में जाकर उन दोनों ने आपस में शादी कर ली और इस प्रकार से गंगूबाई और रमणीक दोनों गुजरात से भागकर मुंबई पहुंच गए और वहां पर रहने लगे |

रमणीक के विचार बहुत गलत थे इस कारण से रमणीक ने गंगूबाई को एक औरत के साथ भेज दिया और उस औरत को गंगूबाई को बताया कि यह मेरी मौसी है और रमणीक ने यह भी बताया कि मैं एक अच्छा घर ढूंढने जा रहा हूं तब तक तुम मेरी मौसी के साथ रहना अब सभी लोग समझ सकते हैं कि उस गंगूबाई की उम्र भी बहुत कम थी

और कोई भी व्यक्ति अपने खास व्यक्ति पर ही भरोसा कर सकता है और गंगूबाई ने ही कुछ ऐसा किया रमणीक पर पूर्ण रूप से भरोसा कर लिया लेकिन रमणी के द्वारा ही गंगूबाई को बहुत कठिन परिस्थितियों से होकर गुजरना पड़ा लेकिन सच बात तो यह है

कि रमणीक जिसे अपनी मौसी बता रहा था वह यह कोठे वाली थी और  गंगूबाई को मात्र ₹500 में किसी कोठे वाली को बेच दिया लेकिन इस बात से गंगूबाई एकदम अनजान थी वह नहीं समझ पाई कि रमणीक ने मुझे एक मशहूर कोठेवाली कमाठीपुरा रेड लाइट एरिया की एक कोठेवाली को बेच दिया है |

 और इस प्रकार से गंगूबाई को रमणी के द्वारा छोड़ दिया गया और इस प्रकार से गंगूबाई की कठिन परिस्थितियां चालू हो चुकी थी जैसा सपना उस गंगूबाई ने देखा था वह सपना टूट गया और यहां से एक नया जन्म ले लिया |

The Mafia Queen of Mumbai

अब आप लोग समझ ही सकते हैं कि कोई एक अनजान लड़की इस प्रकार की अंजन जगहों पर चली जाए तो वह कितनी कठिन परिस्थितियों से होकर गुजरेगी मुंबई की रेड लाइट एरिया कमाठीपुरा में जब गंगूबाई एकदम अनजान थी और वहां पर वह जबरदस्ती रहने लगी लेकिन ऐसे एरिया में रहने पर सभी लोग समझ सकते हैं कि क्या होता है

एक व्यक्ति था जिसका नाम शौकत खान था और इसके द्वारा गंगूबाई की ऐसी हालत कर दी गई कि गंगूबाई को अस्पताल में भर्ती करना पड़ा और वह शौकत खान गंगूबाई को रुपए भी नहीं देकर गया और गंगूबाई इतनी बीमार हो गई कि अस्पताल में बीमार पड़ी रही लेकिन जब गंगूबाई ठीक हो गई तो गंगूबाई ने तुरंत उस शौकत खान की तलाशी चालू कर दी |

गंगूबाई की इस घटना के बाद गंगूबाई का एक नया रूप देखने लगा और उस व्यक्ति के बारे में पूरी जानकारी निकालने के लिए खुद ही लगातार लगी रही और जब पूरी जानकारी मिल गई तब पता चला कि वह शौकत खान नाम का व्यक्ति मसूर डॉन करीम लाला के साथ काम करता है|

करीम लाला के पास जाकर, गंगूबाई ने शौकत खान की वो हरकत बताई. उसके बाद करीम लाला ने उसकी रक्षा करने का प्रण ले लिया। करीम लाला ने शौकत खान को गंगू भाई के साथ किए जाने वाले अत्याचार के लिए बेहद कड़ी सजा दी। गंगूबाई ने करीम लाला को राखी बांध कर अपना मुंह बोला भाई बना लिया। 

लेकिन इस घटना के बाद गंगूबाई की पहचान कुछ अलग हो गई जैसा कि इस घटना के बाद गंगूबाई को कमाठीपुरा में डॉन के नाम से भी जाना जाने लगा और इस घटना के बाद जो वहां पर लोग रहते थे वह जितने करीम लाला से डरते थे अब उतने ही गंगूबाई से भी डरने लगे और इस प्रकार से धीरे-धीरे गंगूबाई चारों तरफ फेमस होने लगी |

लेकिन सच बात तो यह है कि वहां रेड लाइट एरिया में काम करने वाली वेश्याओं के लिए बहुत बड़े-बड़े सकारात्मक कार्य भी किए गंगूबाई के द्वारा जिसे आज भी लोग जानते हैं |

गंगूबाई के द्वारा किसी भी ऐसी महिलाओं को जबरदस्ती नहीं रखा जाता था जिस महिला की अनुमति ना हो अर्थात किसी भी महिला को जबरदस्ती नहीं रखा जाता था अगर वह वहां पर कार्य कर सके तभी रखा जाता था और बिना अनुमति के किसी भी महिला को वहां पर नहीं रखा जाता था | 

  • गंगू बाई का जीवन ऐसा व्यतीत हुआ कि उनके जीवन पर फिल्म भी बन चुकी है |
  • गंगूबाई का पूरा नाम गंगा हरजीवनदास काठियावाड़ी था। बाद में मुंबई के रेड लाइट एरिया में उन्हें गंगू के नाम से जाना जाने लगा।
  • गंगूबाई के जीवन की संपूर्ण कथा को अब जल्द ही बॉलीवुड के बड़े परदे पर दिखाया जाएगा
  • वेश्याओं के साथ-साथ उन्होंने मुंबई के बहुत से अनाथ बच्चों के लिए भी बहुत बड़े बड़े काम किये।
  • गंगूबाई की द्वारा किसी भी महिला को जबरदस्ती नहीं रखा गया |
  •  गंगूबाई के द्वारा कई ऐसे महान कार्य किए गए जिन्हें आज भी लोग याद करते हैं |
  •  मुंबई की रेड लाइट एरिया में जाने पर पता चलता है कि कई दीवारों पर आज भी गंगूबाई की तस्वीरें लगी हुई है | 

सभी लोग ज्यादा नहीं गए होंगे कि गंगूबाई का कैसा जीवन व्यतीत हुआ जिसके कारण उनके जीवन पर आधारित फिल्में भी बनाई जा रही है और बन चुकी है सोच ही सकते हैं कि गंगूबाई का एक नॉर्मल जीवन कैसे बदल कर कितना आगे बढ़ गया कि आज लोग उन्हें किसी और नाम से जानने लगे हैं लेकिन शुरुआत के दिनों में वहां एकदम आम महिला की तरह थी लेकिन उनकी परिस्थितियों ने और जीवन की कई कठिनाइयों ने उन्हें ऐसे कार्य करने पर मजबूर कर दिया |

Best Tech Jankari

Gangubai Kathiawadi Biography , Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,Gangubai Kathiawadi Biography ,

Rajiv kapoor Biography

Sushant Singh Rajput Biography