#modi_jawab_do : Youth Demand Jobs as Millions of Posts Flood Twitter in India

#modi_jawab_do : Youth Demand Jobs as Millions of Posts Flood Twitter in India

#modi_jawab_do  Youth Demand Jobs as Millions of Posts Flood Twitter in India
#modi_jawab_do Youth Demand Jobs as Millions of Posts Flood Twitter in India

#modi_jawab_do

Voice of unemployed people – modi jawab do

भारत के छात्रों के द्वारा जो कि पूर्ण रूप से बेरोजगार घूम रहे हैं उनके द्वारा Twitter  पर लगातार आवाज उठाई जा रही है और #modi_jawab_do  और #Tag  ट्रेंड करा रहे हैं |

बहुत युवा ऐसे हैं जिनके द्वारा कई परीक्षाओं के फॉर्म भरे गए हैं लेकिन अभी तक उन परीक्षाओं के फॉर्म तो भर दिए लेकिन उनकी Exam Date  नहीं आई इसीलिए देश के युवाओं का उत्साह देखने को मिल रहा है और इस देश की युवा हर तरह से अपनी आवाज सरकार के कानों तक पहुंचाना चाहते हैं इसीलिए लगातार Twitter पर ट्रेंड चला रहे हैं |

#modi_rojgar_do  #मोदी_रोजगार_दो

यह #Tag  कुछ दिन पहले देश के युवाओं के द्वारा ट्विटर के माध्यम से ट्रेंड कराया गया था जिसका प्रभाव ज्यादा देखने को नहीं मिला लेकिन देश के युवा जो कि बेरोजगार घूम रहे हैं उनके द्वारा जिस प्रकार से ट्विटर पर ट्रेंड कराया गया उस प्रकार से तो यह देखने को मिला कि देश में बेरोजगार लोगों की संख्या सच में बहुत अधिक है |

हालांकि देश के युवा जो बेरोजगार घूम रहे हैं वह लगातार अपनी आवाज पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं आलम की सभी लोगों को यह पता है कि लगभग 5 मिलियन से ज्यादा टि्वटर पर ट्वीट हो गए थे पिछली बार लेकिन फिर भी आवाज पहुंचाना चाहते थे वहां तक आवाज नहीं पहुंच पाई एक बात तो देखने को मिली थी

कि जिस प्रकार से बेरोजगार लोगों ने ट्विटर के माध्यम से ट्रेंड चलाया वहां जाना न्यूज़ चैनल पर देखने को नहीं मिला हालांकि न्यूज़ चैनल के द्वारा ज्यादातर हर प्रकार की न्यूज़ बताई जाती है लेकिन देश के बेरोजगार लोगों के द्वारा ट्विटर पर जो ट्रेंड चलाया गया उसके बारे में बहुत कम न्यूज़ देखने को मिली इस बात से बहुत बेरोजगार युवा नाराज भी हो गए हैं |

 यह सब बातें बेरोजगार युवाओं के द्वारा कही गई है कि किसी छोटी-छोटी न्यूज़ को बड़े न्यूज़ चैनल बहुत ही बड़े जोर शोर से बताते हैं लेकिन देश के बेरोजगार युवा जो कि ट्विटर पर इतना बड़ा ट्रेन चलाते हैं फिर भी कोई भी न्यूज़ चैनल हमारी न्यूज़ को क्यों नहीं बताता इस प्रकार से बहुत बेरोजगार युवाओं के द्वारा कहा गया है |

#modi_girlfriend_do    #modi_boyfriend_do

जो आप यहां #Tag देख रहे हैं यह भी ट्विटर पर कुछ दिन पहले Trend हो रहा था लेकिन कुछ स्टूडेंट से यह पता चला कि यह किसी भी छात्र के द्वारा ट्रेंड नहीं कराया गया है यह पता नहीं किसके द्वारा ट्रेंड कराया गया है |

अभी तक पता नहीं चला है कि ट्विटर पर कुछ दिन पहले यह ट्रेंड क्यों चला था |

Student Demand 

लगातार बढ़ रही बेरोजगारी से परेशान होकर भारत देश के बेरोजगार लोगों ने यह फ्रेंड लगातार चलाया जा रहा है पहले लोगों ने अपनी बात बताई थी लेकिन अभी बेरोजगार लोग ट्रेंड चला कर जवाब मांग रहे हैं बहुत छात्र जिन्होंने परीक्षा का फॉर्म तो भर दिया लेकिन अभी तक उन छात्रों की परीक्षाएं नहीं हुई है लगभग 2 साल से अधिक हो चुकी हैं

और बेरोजगार रोड पर घूम रहे हैं और दूसरे छात्रों की बात करें जो कि बेरोजगार हैं उनके परीक्षाएं तो हो गई लेकिन रिजल्ट नहीं आया इसीलिए वे लोग भी बेरोजगार रोड पर घूम रहे हैं और उन बेरोजगार लोगों का यही कहना है कि अगर इस प्रकार से चलता रहा तो पूरे देश भर में बेरोजगार दिखाई देंगे क्योंकि कहीं पर नौकरी की कोई उम्मीद नहीं दिखेगी

घरवाले किस तरह से पढ़ाते हैं और यही चाहत रखते हैं कि हमारा बेटा नौकरी लगेगा और जब पता चलता है कि नौकरी ही नहीं मिल रही तो कितने बड़े दुख की बात है ऐसा बेरोजगार लोगों का कहना है और वे लगातार अपनी आवाज पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं |

 बेरोजगार लोगों के पास कोई भी ऐसा साधन नहीं है कि सरकार तक या किसी के द्वारा अपनी बेरोजगारी को बता सके इसीलिए लोगों के द्वारा Trend चला कर बताया जा रहा है कि हां हम बेरोजगार हैं |

पिछले वर्ष 24 मार्च को COVID-19 के प्रकाश में चार घंटे के नोटिस पर घोषित राष्ट्रव्यापी तालाबंदी के तुरंत बाद के महीनों में बेरोजगारी दर पिछले एक साल में रिकॉर्ड ऊंचाई को छू गई। हालांकि यह तब से ठीक हो गया है जब संख्या अभी भी बढ़ रही है क्योंकि भारत के पास नवीनतम अनुमानों के अनुसार लगभग 50 करोड़ लोगों का कार्यबल है।

वह एक हताश युवा देश की उस समय की नौकरियों के लिए है, जब अर्थव्यवस्था पहले से ही लड़खड़ा रही है और आगे बढ़ती जा रही है।

अनौपचारिक क्षेत्र के प्रत्येक पांच श्रमिकों में से लगभग एक श्रमिक श्रम बाजार से बाहर हैं या वर्तमान में बेरोजगार हैं, अज़ीम प्रेमजी विश्वविद्यालय ने अक्टूबर-दिसंबर 2020 की अवधि के बाद के लॉकडाउन के लिए हाल ही में कहा था।

पिछले एक साल में कर्मचारियों की छंटनी और कंपनियों के संविदात्मक नौकरियों के साथ, एक सभ्य भविष्य हासिल करने के बारे में अनिश्चितता खुद को अब सुना जा रहा है।

जिस प्रकार से देश के युवा बेरोजगार घूम रहे हैं उस प्रकार से तो यही देखा जाता है कि आने वाले दिनों में लगातार बेरोजगारी बढ़ती जाएगी क्योंकि जब तक कोई रोजगार नहीं मिलेगा तब तक कोई व्यक्ति आगे नहीं बढ़ सकता इसलिए लोग कहीं ना कहीं नाराज होते हुए दिखाई दे रहे हैं और जो युवा पीढ़ी  है

जो कि अपना भविष्य के बारे में सोच रही है लेकिन कहीं पर भी उन्हें अपना भविष्य दिखाई नहीं दे रहा है दिखाई दे रहा है तो सिर्फ अपने घर वालों के आंसू क्योंकि किसी बेरोजगार को ही पता रहता है कि घर वालों ने उसे किस तरीके से पढ़ाया है और फिर भी इतना पढ़ने के बाद उसे कोई रोजगार ना मिले तो आता सोकर घर लौटना पड़ता है |

ऐसा नहीं है कि यहां बेरोजगारी का गुस्सा केवल छात्रों में देखा जा रहा है बल्कि उन छात्रों को पढ़ाने वाले टीचर में भी देखा जा रहा है यह सरल सी भाषा में मैं समझा सकता हूं कि जब कोई नौकरी नहीं निकलेगी तो कोई भी छात्र किसी टीचर पर नहीं पड़ेगा और जब छात्र नहीं पड़ेगा तो टीचर भी बेरोजगार हो जाएंगे इस प्रकार से बेरोजगारी की बढ़त बढ़ रही है और छात्र और टीचर लगातार अपनी बेरोजगारी को दूर करने के लिए अपनी आवाज को ट्विटर के माध्यम से पहुंचा रहे हैं | 

Twitter  पर ट्रेंड होने वाले #Tag  कुछ इस प्रकार हैं जिन्हें आप देखकर समझ सकते हैं |

modi jawab do,modi jawab do,modi jawab do,modi jawab do,modi jawab do,modi jawab do,modi jawab do,modi jawab do,modi jawab do,modi jawab do,modi jawab do

Best Tech Jankari

modi job do