Online Work From Home: के कारण 3.6 करोड़ साइबर हमले हुए हैं – cyber-attack-देखें पूरी जानकारी

Online Work From Home: के कारण 3.6 करोड़ साइबर हमले हुए हैं  देखें पूरी जानकारी

 

Online Work From Home:-

वैसे तो सभी लोगों को यह पता है कि यह साइबर हमले लगातार हर साल होते आए हैं, और लगातार होते रहते हैं लेकिन इस बार पिछले साल की अपेक्षा इस वर्ष सबसे अधिक साइबर हमले हुए हैं | Online Work From Home के कारण |

Online Work From Home: के कारण 3.6 करोड़ साइबर हमले हुए हैं -देखें पूरी जानकारी
Online Work From Home: के कारण 3.6 करोड़ साइबर हमले हुए हैं -देखें पूरी जानकारी

यह भारत देश में बीमारी जो लगातार महामारी बनके फैल रही है उस कारण से ज्यादातर लोगों ने यह कार्य Online Work From Home कर दिया |

लेकिन ऐसा करने से बहुत लोगों को इतना बड़ा नुकसान झेलना पड़ा कि जिसकी कभी भी सोचा भी नहीं होगा,वर्क फ्रॉम होम की वजह से साइबर अटैक में कई गुना बढ़ोतरी हुई है |

घर से काम करने वालों पर साइबर हैकर ने निशाना साधा है | पिछले साल साइबर अटैक बहुत हुए थे और संख्या भी बहुत अधिक थी और उस cyber-attack को लेकर  केस पर्स की रिसर्च रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ |

लेकिन इस बार तो सभी हदें पार हो गई इस बार पिछले साल की अपेक्षा दोगुना cyber-attack हुए हैं | यह साइबर अटैक की घटना पहली बार नहीं है \ इससे पहले भी ना जाने  कितनी बार cyber-attack हुए हैं |

रिपोर्ट के मुताबिक जनवरी से नवंबर के बीच रिमोट डेस्कटॉप प्रोटोकोल के साइबर अटैक की संख्या 3.6  करोड़ रही |और पिछले वर्ष यही साइबर अटैक की संख्या 1.8  करोड़ के आसपास थी |

 

Online Work From Home मैं लोगों को बहुत लाभ हुआ कि उन्हें घर से बाहर जाने की जरूरत नहीं पड़ी लेकिन वहीं दूसरी तरफ बहुत अधिक नुकसान का सामना करना पड़ा |

 

 साइबर अटैक से कैसे बचाएं-

Online Work From Home मैं सबसे बड़ी गलतियों के कारण हमारे ऑनलाइन कार्य पर साइबर अटैक होता है, कोई भी कर्मचारी नए लिंक को आसानी से खोल लेते हैं और बे सॉफ्ट टारगेट बने| इस दौरान  कॉरपोरेट ट्रैफिक बड़ा, यूज़र ने बिना पूरी सुरक्षा थर्ड पार्टी से डाटा एक्सचेंज किया और साइबर अटैक का शिकार हुए |

उन्होंने असुरक्षित वाईफाई नेटवर्क का इस्तेमाल किया |  और जो भी है कर सोते हैं उन्होंने यूजर के डेस्कटॉप का रिमोट एक्सेस हासिल कर लिया और इस प्रकार से एक अर्थ साइबर अटैक के द्वारा किसी भी ऑनलाइन कार्य को हासिल कर लेते हैं |

साइबर अटैक छोटी-छोटी गलतियों के कारण होते हैं और हमें उसका नुकसान बहुत ज्यादा भुगतना पड़ता है |

विश्व स्तर पर माने तो भी यह साइबर अटैक बहुत अधिक हुए हैं- विश्व स्तर पर पिछले साल की तुलना में इस साल रिमोट डेस्कटॉप प्रोटोकॉल पर 242 फ़ीसदी अधिक साइबर हमले हुए हैं | रिपोर्ट के अनुसार पिछले साल जनवरी से नवंबर के बीच 969 मिलियन साइबर अटैक हुए थे, जब नवंबर यहां करीब 3.3  बिलियन हो गई है |

यहां साइबर अटैक किस प्रकार से होते हैं सभी लोगों को समझ में आ गया होगा इस पोस्ट के माध्यम से

छोटी-छोटी गलतियों के कारण यहां साइबर अटैक होते हैं और नुकसान बहुत अधिक होता है यह साइबर अटैक इस वर्ष इस महामारी के कारण हुए हैं क्योंकि ज्यादातर कार्य सभी Online Work From Home पर ही हुए हैं |

Online Work From Home के कारण लोगों को कहीं भी जाने की जरूरत नहीं पड़ी जो भी कार्य करना था वह घर पर बैठकर कर सकता था और इस महामारी के ऐसे समय में लोगों ने यही सही तरीका अपनाया लेकिन इस तरीके के कारण भी बहुत ऐसे बड़े बड़े नुकसान झेलने पड़े जिसकी वजह से इतने बड़े-बड़े cyber-attack हुए |

लेकिन बताया गया है कि इसके लिए बहुत सुरक्षा बढ़ा दी गई है जिसकी वजह से आगे ज्यादा साइबर अटैक ना हो पाए लेकिन जो यूजर अपने किसी भी ऑनलाइन कार्य को करता है उस वक्त वह किसी ऐसी अन्य लिंक पर क्लिक करता है या उसे परमिशन देता है तभी यह सब कुछ देखने को मिलता है \

हमारी तरफ से यह दी गई इस पोस्ट के माध्यम से जानकारी आपको कैसी लगी जरूर बताना और अपने सभी दोस्तों के लिए शेयर जरूर करना क्योंकि यह जानकारी हर उस व्यक्ति के लिए जो कि  एंड्राइड मोबाइल का यूज करता है | हमारी मोबाइल के अंदर ना जाने कितने प्रकार का डाटा होता है और हम उन्हें सुरक्षित रखने के लिए ना जाने कितने प्रकार के पासवर्ड लगा देते हैं लेकिन अगर आपकी मोबाइल लैपटॉप कंप्यूटर पर अगर साइबर अटैक होता है तो आप अपने डेटा को सुरक्षित नहीं रख सकते इसलिए यह पोस्ट के माध्यम से सभी लोगों को जानकारी दी जा रही है |

Online Work From Home,Online Work From Home 2020,Online Work From Home 2021

Other Big Update- Tech –Kalyug Time  || 0 Views और Subscriber पर Youtube Monetization हो जाये तो क्या Problem होगी